यूपी : सपा सांसद आजम खान को मिली बड़ी राहत, हमसफर रिजॉर्ट को तोड़ने पर रोक।

0
96
आजम

उत्तर प्रदेश के सीतापुर जेल में बंद समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान (आज़म खान) को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। हाईकोर्ट ने आजम खान की पत्नी डॉ. तंजीम फेमिता के नाम पर रामपुर में बने रिसोर्ट के ध्वस्तीकरण पर रोक लगा दी है। अदालत ने याचिकाकर्ता को दो सप्ताह के भीतर विध्वंस के आदेश के खिलाफ विभागीय अपील दायर करने और संबंधित प्राधिकरण को चार सप्ताह के भीतर अपील का निपटान करने का आदेश दिया है।

इस दौरान कोई भी तोड़फोड़ की कार्रवाई नहीं की जाएगी। हाईकोर्ट ने रामपुर विकास प्राधिकरण के विध्वंस आदेश को गलत माना है। दरअसल, डॉ. तंजीम फातिमा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर रामपुर विकास प्राधिकरण द्वारा 27 अगस्त 2020 को जारी किए गए विध्वंस नोटिस को चुनौती दी थी। न्यायमूर्ति शशिकांत गुप्ता और न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल की पीठ ने याचिका पर सुनवाई की।


यह भी पढ़ें : प्रतापगढ़ : जिले में चार स्वास्थ्यकर्मियों सहित 76 और नए कोरोना पॉजिटिव मिले।


याचिका का विरोध करते हुए, रामपुर विकास प्राधिकरण और राज्य सरकार के अधिवक्ताओं ने कहा कि याचिकाकर्ता के पास शहरी नियोजन और विकास अधिनियम के तहत विध्वंस आदेश के खिलाफ अपील दायर करने का विकल्प है। लेकिन ऐसा न करके उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। यह याचिका कायम नहीं है। इसके विरोध में तंजीम फातिमा के वकील सफदर अली काजमी ने कहा कि अपील दो सप्ताह के भीतर दायर की जाएगी।

तब तक विध्वंस की कार्यवाही को रोक दिया जाना चाहिए और अपील एक निश्चित अवधि के भीतर निपटा दी जाएगी। कोर्ट ने कहा कि याचिकाकर्ता के पास अपील दायर करने का विकल्प है। इसलिए, उसे हमारे आदेश की प्रति के साथ दो सप्ताह में अपील दायर करनी चाहिए और संबंधित प्राधिकारी को योग्यता के अनुसार चार सप्ताह में अपील का निपटान करना चाहिए।


यह भी पढ़ें : अमेठी : जिले में 65 मिले कोरोना पॉजिटिव, केसों की संख्या साढे़ चार सौ के पार हुई।


अगले छह हफ्तों के दौरान या जब तक अपील का निपटान जो भी पहले हो, तब तक विध्वंस की कार्यवाही नहीं की जाएगी। कोर्ट ने यह भी कहा है कि अगर याचिकाकर्ता अपील दायर नहीं करते हैं तो उन्हें इस आदेश का लाभ नहीं मिलेगा। बता दें कि सपा शासन के दौरान आजम खान ने इस लग्जरी हमसफर रिसॉर्ट का निर्माण कराया था। आजम खान के घर से महज तीन किलोमीटर की दूरी पर स्थित करोड़ों की लागत से स्थित इस रिसॉर्ट का उद्घाटन पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था।