UP B.Ed 2020 : कुछ ही देर में शुरू होगी बीएड की परीक्षा, प्रशासन की तैयारियां पूरी।

2
120
बीएड

UP B.Ed JEE 2020 : लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जा रही परीक्षा की तैयारी पूरे होने का दावा पहले ही किया जा चुका है। जेएनपीजी कॉलेज में अभ्यर्थियों की भीड़ उमड़ी, कॉलेज अंदर अभ्यर्थियों के प्रवेश में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सर्किल बनाए जा रहे हैं। प्रदेश स्तर पर सबसे बड़ी बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 आज कुछ ही देर में शुरू होने वाली है। अभ्यर्थी सुबह छह बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर आना शुरू हो गए थे।

सभी अभ्यर्थी मास्क लगाकर आए हैं। वहीं परीक्षा केंद्रों के बाहर इक्का दुक्का चाय की दुकानें भी खुली हैं। सुबह आठ बजे से अभ्यर्थियों का केंद्र के अंदर प्रवेश शुरू हो गया है। अंदर अभ्यर्थियों की थर्मल स्कैनिंग के बाद एडमिड कार्ड की चैकिंग होगी। और साथ ही उनके पास मास्क और सैनिटाइजर को भी चैक किया जाएगा। वहीं केंद्रों के बाहर अभ्यर्थियों ने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई।


यह भी पढ़ें : केरल विमान हादसा : लैंड करते ही विमान के उड़े परखच्चे, 18 की मौत, 170 बचाए गए।


अधिकारियों की बैठक में नोडल कोआर्डिनेटर ने बारीकी से जानकारी देते हुए केंद्र व्यवस्थापको को परीक्षा संबंधी किट वितरित किया। जिले में 56 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जहां लगभग 23 हजार 400 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे।  जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह, एडीएम, सभी तहसील के एसडीएम व पूर्वांचल विश्वविद्यालय कुलसचिव सुजीत कुमार जायसवाल, नोडल कोआर्डिनेटर डा.एसपी सिंह की निगरानी की मौजूदगी में बैठक हुई।

जिसमें जिले के 56 परीक्षा केंद्रों के व्यवस्थापक उपस्थित रहे। जिनको परीक्षा संबंधित बारीकियां बताई गई और परीक्षा किट वितरित किया गया। परीक्षा दो पालियों में होगी। पहली पाली सुबह 9 बजे से 12 बजे तक व दूसरी पाली दोपहर दो बजे से पांच बजे तक होगी। सभी अभ्यर्थियों को कम से कम एक घंटा पहले केंद्र पर रिपोर्ट करना अनिवार्य है। बता दें कि प्रवेश परीक्षा के लिए प्रदेश में 14 नोडल केंद्र, चार उपनोडल केन्द्र बनाये गये हैं। प्रदेश के 73 जिलों में 1089 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। परीक्षा में कुल 431904 परीक्षार्थी शामिल होंगे।


यह भी पढ़ें : सुल्तानपुर : जिले में एंटीजन टेस्टिग में 23 लोग कोरोना संक्रमित मिले।


यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा में फेस डिटेक्टर से पकड़े

कोरोना संक्रमण के खौफ से शिक्षक संगठन एक तरफ उत्तर प्रदेश बीएड प्रवेश परीक्षा का विरोध कर रहे हैं। दूसरी ओर लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन परीक्षा की बेहतर तकनीकी से कराने में जुटा है। परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थियों को रोकने के लिए प्रशासन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ‘एआई’ तकनीक का इस्तेमाल किये जाने का दावा भी किया गया।


यह भी पढ़ें : प्रतापगढ़ : दो स्वास्थ्य कर्मियों समेत 66 नए कोरोना संक्रमित पाए गए


विवि प्रशासन का दावा है कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर एआई आधारित फेस डिटेक्शन सिस्टम लगवाए जाएंगे। इससे कोई फर्जी परीक्षार्थी केन्द्र के अंदर नहीं जा पाएगा। एआई तकनीक अभ्यर्थी के चेहरे की कुल 27 जगहों की सूचनाओं को एकत्र करके उसको डिजिटल डाटा में बदलेगी, फिर फोर डाइमेंशन में चेहरे की जांच करेगी।