रायबरेली जेल से दो कैदी फरार हो गए, क्‍वारंटाइन बैरक के बाथरूम से लगाई सेंध।

0
98
कैदी

रायबरेली : जिला जेल से सोमवार रात दो कैदी फरार हो गए। घटना का पता तब चला जब मंगलवार सुबह गिनती हुई। जिसके बाद एसपी सहित पुलिस विभाग के अधिकारी जेल पहुंचे। बहुत खोजबीन के बाद भी जब दोनों नहीं मिले, तो उन्हें कोतवाली में तहरीर दी गई। जेल अधिकारी इस घटनाक्रम से काफी परेशानी में हैं। चोरी के आरोप में शिवगढ़ के शेरगढ़ मजरे पडरिया निवासी शारदा पुत्र रामफेर को 5 सितंबर को जेल भेज दिया गया था।


यह भी पढ़ें : यूपी में नर्सरी स्कूलों में परिवर्तित किए जाने, आंगनवाड़ी केंद्र, तीन मंडलों में श्रमिकों का प्रशिक्षण शुरू।


उधर, सलोन के अटठारिया गांव के रंजीत को बलात्कार के मामले में तीन सितंबर को जिला जेल लाया गया था। दोनों को 14 दिनों के लिए एक संगरोध बैरक में रखा गया था। सोमवार रात गिनती के दौरान वे दोनों थे। हालांकि, मंगलवार सुबह की गिनती गायब थी। जेल प्रशासन ने तुरंत इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। इसके बाद कोतवाल ने एसपी श्लोक कुमार और अन्य अधिकारियों को पूरे मामले के बारे में बताया। कुछ ही देर में डीआईजी जेल, एसपी, एएसपी, सीओ भी जेल पहुंच गए।

जेल के सभी बैरकों की बारी-बारी से तलाशी ली गई, लेकिन दोनों का पता नहीं चल सका। बताया गया कि दोनों संगरोध बैरक में बने बाथरूम में सेंध लगाकर बैरक से बाहर आए। फिर तीन-चार बड़ी दीवारों के पार जाकर भाग गए। यह करना बहुत मुश्किल था या, एक तरह से, बहुत मुश्किल। लेकिन दोनों ने जेल प्रशासन की नींद उड़ा दी। कोतवाल अतुल कुमार सिंह ने बताया कि जेलर ने दो कैदियों को जेल से भागने की चेतावनी दी है। मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।


यह भी पढ़ें : सुल्तानपुर : कोरोना संकर्मित का पता चलते ही महिला फरार हो गई।