अमेठी के रहने वाले दरोगा परवेज असलम की सड़क हादसे में मौत, प्रयागराज में हुई ट्रक से टक्कर।

1
34
सड़क

प्रयागराज : घूरपुर पुलिस स्टेशन में तैनात एक पुलिस अधिकारी की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। शनिवार सुबह वह किसी काम से बाइक पर जा रहा था। यह दुर्घटना नैनी थाना क्षेत्र के लेप्रेसी अस्पताल के पास हुई। अनियंत्रित ट्रक ने दरोगा की बाइक को टक्कर मार दी। हादसे के बाद ट्रक छोड़कर चालक फरार हो गया। पुलिस पहुंची और छानबीन की। आरोपी ट्रक चालक की तलाश की जा रही है।

दरोगा परवेज असलम अमेठी के रहने वाले थे


यह भी पढ़ें : राहुल गांधी और प्रियंका गांधी 35 सांसदों के साथ हाथरस के लिए रवाना हुए, बड़ी संख्या में कार्यकर्ता DND पर एकत्रित हुए, लगा लंबा जाम।


परवेज असलम खान 55 पुत्र मोहम्मद असलम खान अमेठी जिले के आशापुर गांव के मूल निवासी थे। परवेज़ असलम खान कुछ महीने पहले घूरपुर पुलिस स्टेशन में तैनात थे। वह घूरपुर पुलिस स्टेशन में अपनी पोस्टिंग के बाद भी वहां रहता था। शनिवार सुबह परवेज असलम बाइक से जा रहा था। लेप्रसी मिशन अस्पताल के पास ट्रक ने बाइक में इंस्पेक्टर को टक्कर मार दी। इसके चलते परवेज असलम बाइक से दूर जा गिरा और उसकी मौत हो गई।

ट्रक छोड़कर चालक फरार हो गया, पुलिस तलाश कर रही है

हादसे के बाद जब तक लोग मौके पर पहुंचे, तब तक चालक ट्रक छोड़कर वहां से भाग निकला। इस बीच सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। मौके पर मौजूद लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस अधिकारी के परिवार को दुर्घटना के बारे में बताया गया। वहीं, पुलिस फरार ट्रक चालक को पकड़ने का प्रयास कर रही है।


यह भी पढ़ें : प्रतापगढ़ की मंडी समिति भी धान की खरीद करेगी, यह तैयारी है।


बाइक सड़क पर गड्ढे में गिर गई, महिला की मौत

फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के करुआडीह गांव में सड़क के गड्ढे में बाइक फंसने से महिला की मौत हो गई। जबकि उनके बेटों की हालत गंभीर बताई जा रही है। फूलपुर के बौदाई गांव की रहने वाली सीता देवी, पत्नी राम प्रसाद बिंद, अपने छोटे बेटे धनराज और बड़े बेटे मुकेश के साथ बाइक से हंडिया के लक्ष्घरिया अपनी बहन के घर जा रही थीं। करुआडीह गांव के सामने सड़क के बीच में अचानक बाइक फंस गई, बाइक अनियंत्रित होकर पलट गई। मां और दोनों बच्चे भी सड़क पर गिर गए।

महिला के दो बेटे हैं घायल

हादसे में तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए। खून से लथपथ हालत में दर्द से कराहती मां और बेटे की मदद के लिए पहुंची एक अन्य बाइक ने महिला को रौंद दिया। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल मां और बेटों को प्रतापपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने सीता देवी को मृत घोषित कर दिया। वहीं, मुकेश और धनराज की हालत गंभीर बताई जा रही है। महिला का पति दिहाड़ी पर गुजारा करता है और परिवार के लिए आजीविका चलाता है।

1 COMMENT

Comments are closed.