रायबरेली में गैंगस्टर एक्ट के दो अपराधियों की संपत्ति कुर्क, 22 मामले दर्ज।

0
42
गैंगस्टर

रायबरेली : उत्तर प्रदेश सरकार माफियाओं पर एक के बाद एक कार्रवाई कर रही है। इस कड़ी में, रायबरेली के सदर सर्कल में दो गैंगस्टर एक्ट अपराधियों की संपत्ति को रविवार को फांसी दे दी गई। दोनों प्रॉपर्टी डीलिंग के जरिए अचल चल अचल संपत्ति बना रहे थे। दरअसल, शहर पुलिस ने खली साहट निवासी राजीव रस्तोगी उर्फ ​​राजू सोनार के खिलाफ 22 मामले दर्ज किए हैं। 1996 में उनके खिलाफ विस्फोटक अधिनियम और गैर-इरादतन हत्या का पहला मामला दर्ज किया गया था। तभी से वह आपराधिक कृत्यों में शामिल था।


यह भी पढ़ें : सुल्तानपुर में हादसा : घर में सोते वक्त कच्ची दीवार गिरने से दो लोगो की मौत हुई।


उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के चार मामले दर्ज हैं। पुलिस ने अब तक एक खाली इलाके में उसके घर और एक एसयूवी वाहन को जब्त किया है। अभी भी उसकी जमीन की बिक्री की जांच की जा रही है। जो संपत्ति अटैच की गई है, उसकी कीमत वहीं, भदोखर पुलिस ने सपा नेता और जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र यादव के तीन वाहनों को जब्त कर लिया है। उनके खिलाफ जमीन बेचने और मकान खरीदने के साक्ष्य भी जुटाए जा रहे हैं। एक करोड़ की जमीन अटैच की गई है। उसके खिलाफ विभिन्न थानों में 12 मामले दर्ज हैं।

जानिए क्या कहती हैं पुलिस


यह भी पढ़ें : सीएम योगी आदित्यनाथ ने मनोबल बढ़ाया : हेड कांस्टेबल और पीएसी के एसआई को तुरंत प्रमोशन।


पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार के मुताबिक, दोनों की पहचान गैंगस्टर के रूप में थी। उनकी चल अचल संपत्ति, जिसे उन्होंने गलत तरीके से पैसा कमाकर बनाया था, संलग्न किया गया है। ऐसे अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।